Registered Arya Samaj Mandir

7 DAYS OPEN, NO HOLIDAY NO MARRIAGE IN LATE NIGHT, PLEASE. CALL FOR LOVE MARRIAGE AND REGISTRATION IN DELHI AND NCR.

Arya Samaj Mandir is the place where the Arya Samaj marriage takes place. Our temple has the reputable record of handling hundreds of Arya Samaj marriages, making it one of the prominent temples in Delhi and adjoining areas for this purpose. With continued adherence to the essential tenets of the Arya Samaj marriage and abiding by the law of the land, we carry out the whole procedure with traditional Vedic rituals.

Our Arya Samaj Mandir upholds the tradition of simplicity of procedures and non-extravagance which is commonly associated with these marriages. Whether it is the love marriage, arranged marriage or the inter-caste and inter-religion marriages, we serve you with the best of our services to help you bond with your beloved for a life-time. Arya Samaj Mandir is required to be duly registered with the Registrar of Societies and this makes it a legal entity for holding such marriages.

नकली मंदिरों से सावधान !
यदि आप आर्य समाज मंदिर में विवाह कराने जा रहे हैं  तो इसे अवश्य पढ़ें । आजकल कुछ वकीलों ने या उनके मुंशियों ने कुछ नकली मंदिर खोल रखें हैं।  इनकी सबसे बड़ी पहचान यह है कि ये मंदिर एक छोटे से किराये के कमरे में चल रहे होते हैं।  ये लोग कोर्ट के आस पास ही कहीं छोटा सा कमरा किराये पर लेकर एक छोटा सा मंदिर खोल देते हैं।  
कुछ दिन पूर्व ही माननीय दिल्ली हाई कोर्ट ने स्वयं ही संज्ञान लेते हुए दिनांक 02 /10 /2013 को ऐसे पांच मंदिरों पर रोक लगायी थी।  रोक लगने के बाद अब इन लोगो ने वहां के मंदिर बंद कर कोर्ट के बिल्कुल ही जड़ में किराये के कमरे लेकर नये  मंदिर खोल दिए हैं। इन मंदिरों के पास "आर्य समाज मंदिर " के नाम से रजिस्ट्रेशन भी नहीं होता है अपितु  इन मंदिरों के पास " आर्य समाज मंदिर " के नाम से मिलता-जुलता दूसरे नाम से रजि०  होता है जैसे “आर्य समाज सेवा समिति” तथा “आर्य समाज विवाह मंडल” आदि।

असली और नकली मंदिर में मुख्य अन्तर:-
असली मंदिर की पहली पहचान यह है कि वह कम से कम 400-500  गज में होता है न कि एक छोटा सा किराये का कमरा।  दूसरी बड़ी पहचान यह है कि उसके आस-पास "आर्य समाज मंदिर " के नाम से ही रजिस्ट्रेशन होता है।

आपको विशेष हिदायद दी जाती है कि जब भी आप किसी से फोन पर अपनी शादी के विषय में बात करें तो उससे यह प्रश्न अवश्य करें कि आपका मंदिर कितना बड़ा है और क्या यह कोर्ट के आस-पास  है ? अगर वह मंदिर कोर्ट के आस-पास है या एक छोटा सा कमरा है तो समझों कि शत प्रतिशत नकली है।  ऐसे मंदिरों में भूलकर भी न जायें । दूसरा उससे यह प्रश्न भी पूछें कि आपके मंदिर का रजि०  किस नाम से है ? क्योंकि इन मंदिरों का रजिस्ट्रेशन आर्य समाज मंदिर के नाम से नहीं होता है अपितु मिलते-जुलते किसी अन्य नाम से होता है जैसे – “आर्य समाज सेवा समिति” या “आर्य विवाह मंडल” आदि।